डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है | Best Info .Net Framework Features

डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है – .NET फ्रेमवर्क कितने प्रकार के होते हैं? | .Net Framework Features and Architecture in Hindi

डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है- डॉट नेट फ्रेमवर्क (Dot Net Framework) – आइए हम अब यह जानते हैं कि डॉट नेट है क्या? फ्रेमवर्क का शाब्दिक अर्थ होता है आकार तथा सपोर्ट देने वाली ढाँचा। इसका एक और अर्थ सामाजिक व्यवस्था और प्रणाली भी होता है।

इन अर्थ के प्रकाश में यह कहा जा सकता है कि डॉट नेट फ्रेमवर्क एक ढाँचा है जो प्रोग्रामिंग को एक आकार, रूप तथा सपोर्ट प्रदान करता है। इसी के आधार पर प्रोग्रामों को विकसित किया जाता है। इसे प्रोग्राम की ऐसी व्यवस्था भी कहा जा सकता है जो कुछ विशेष प्रोग्रामिंग भाषाओं द्वारा अनुसरण किया जाता है।

डॉट नेट फ्रेमवर्क के फीचर (Features of Dot net Framework)

डॉट नेट फ्रेमवर्क माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन के प्रोग्रामिंग कल्चर की एक नयी शुरूआत है। इस कल्चर के दम पर माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी एक नई पारी खेलने की शुरूआत की है जो प्रतिस्पर्धा से भरा है। स्पष्ट है कि यह जिस आधार पर इस प्रतिस्पध में सफल होने का प्रयास कर रहा है। इसमें कई गुण होगें। आइए हम इसके कुछ गुणों को समझते हैं।

1- सुरक्षित, बहुभाषीय विकास प्लेटफार्म (Secure, Multi Language Development Platform )  – डॉट नेट की सबसे खास बात यह है कि यह सुरक्षित होने के साथ ही विकास के लिए एक से अधिक भाषा पर कार्य करने हेतु प्लेटफॉर्म देता है।

विकासकर्त्ता तथा आई० टी० विशेषा डॉट नेट को एक शक्तिशाली तथा कर्मठ सॉफ्टवेयर विकासकर्ता प्रौद्योगिकी के रूप में भरोसा करते हैं जो न केवल सुरक्षा एडवांसमेंटस (Security Advancements), प्रबंध न टूल्स (Management Tools) आपको उपलब्ध कराता है बल्कि आपको अत्यंत विश्वसनीय तथा सुरक्षित सॉफ्टवेयर बनाने, जाँचने तथा डिप्लॉय करने हेतु आवश्यकता अनुसार अपडेट भी करता है।

डॉट नेट आपके मनचाहे भाषा में ही आपको प्रोग्राम बनाने की आजादी देता है जिसके लिए एक बहुभाषीय विकास प्लेटफार्म उपलब्ध है ताकि आप अपने काम करने के विकल्प को स्वयं चुन सके। कॉमन लैंग्वेज रनटाइम (Common Language Runtime) शक्तिशाली स्टैटिक भाषाओं यथा विजुअल बेसिक तथा विजुअल सी ++ को सपोर्ट करता है।

2- तेज, मॉडल चालित डेवलपमेंट प्रोग्रामिंग (Rapid Model Driven Programming Paradigm ) – डॉट नेट पथ प्रदर्शक समाधान प्रस्तुत करता है जो तेजी के साथ एप्लीकेशन विकास करवाता है। फलस्वरूप उत्पादन में अप्रत्याशित रूप से तेजी आती है। उदाहरण के लिए नया ए० डी० ओ० डॉट नेट (ADO. Net) एन्टिटि फ्रेमवर्क आधारित डेवलपमेंट पैराडाइम तथा स्टैण्डर्डस आधारित फ्रेमवर्क प्रस्तुत करता है जो डेटाबेस प्रोग्रामिंग की एक नयी अवधारणा प्रस्तुत करता है। ए० डी० ओ० डॉट नेट (ADO.Net) का प्रयोग करके विकासकर्त्ता बिल्कुल स्पष्ट रूप से अपने बिजनेस लॉजिक डाटा तथा यूजर इंटरफेस को अलग कर पाते हैं।

3- अगली पीढ़ी उपयोगकर्त्ता अनुभव (Next Generation User Experiences) –  विण्डोज प्रेजेण्टेशन फाउण्डेशन (Windows Presentation Foundation ) विण्डोज विस्टा में एप्लीकेशन निर्माण के लिए एक एकीकृत फ्रेमवर्क (integrated framework) तथा उच्च एकनिष्ठता अनुभवों (high fidelity experiences) का प्रस्तुत करता है जो कम्प्यूटर की पूरी क्षमता का उपयोग करते हुए एप्लिकेशन यूजर इंटरफेस, डॉक्यूमेण्टस् तथा मीडिया करेंट को साथ-साथ एकिकत करता है।

विण्डोज प्रजेण्टेशन फाउण्डेशन के केन्द्र में एक रेजोल्यूशन मुक्त तथा वेक्टर आधारित कार्यकारी इंजिन है जिसका निर्माण आधुनिक ग्राफिक्स हार्डवेयर का पूरा-पूरा लाभ उठाने के उद्देश्य से हुआ है। विण्डोज प्रज्रेण्टेशन फाउण्डेशन एक्सटेन्सिबल एप्लीकेशन मार्कआप भाषा (extensible Application Markup Language), कन्ट्रोल्स, डाटा बाइन्डिंग, लेआउट, द्वि-विमीय तथा त्रि-विमीय ग्राफिक्स, एनिमेशन, स्टाइल्स, टेम्पलेट्स, डॉक्यूमेण्ट्स, मीडिया टेक्स्ट तथा टाइपोग्राफी जैसे फीचरों को उपलब्ध कराता है।

विण्डोज प्रजेण्टेशन फाउण्डेशन माइक्रोसॉफ्ट डॉट नेट फ्रेमवर्क में सम्मिलित है। इसलिए आप डॉट नेट फ्रेमवर्क क्लास लायब्रेरी के अन्य अवयवों को मिलाकर भी एप्लीकेशनों का निर्माण कर सकते हैं।

4- बेहतर वेब एप्लीकेशन विकास (Better Web Application Development) – ए० एस० पी० डॉट नेट निःशुल्क प्रौद्योगिकी है जिससे वेब विकासकर्त्ता छोटे तथा निजी वेबसाइट से लेकर बडे एन्टरप्राइज वर्ग के डायनमिक वेब एप्लीकेशन बना सकते हैं।

5- माइकोसॉफट का निःशुल्क अजैक्स (AJAX) अर्थात असिंक्रोनस जावास्क्रिप्ट तथा एक्स० एम० एक (Asynchronous JavaScript and XML) फ्रेमवर्क – ए० एस० पी० डॉट नेट अजैक्स की सहायता से विकास कर्त्ता तेजी से अधिक कुशल अधिक इंटरएक्टिव तथा अत्यंत निजी वेब कार्य कर सकते है जो प्रायः सभी प्रचालित ब्राउजर्स पर कार्य कर सकता है। तथा यदि आप विजुअल स्टूडियो 2008 में कार्य करना चाहें तो जान लें कि इसमें जोड़े गये नये एस० पी० डॉट नेट डायनामिक फंक्शनैलिटी में एक बेहद शक्तिशाली फ्रेमवर्क है जो बगैर कोड लिखे हुए डाटा चालित वेब विकास में सहायता करता है।

6- सुरक्षित, भरोसेमंद वेब सेवाएँ (Secure, Reliable Web Services) – विण्डोज कम्यूनिकेशन फाउण्डेशन (Windows Communication Foundation) का सर्विस ओरिएण्टेड प्रोग्रामिंग मॉडल माइक्रोसॉफ्ट डॉट नेट फ्रेमवर्क पर बना हुआ है तथा कनेक्टेड सिस्टमस के विकास को आसान बनाता है तथा इंटरऑपरेबिलिटी (interoperability) सुनिश्चित करता है। विण्डोज कम्यूनिकेशन फाउण्डेशन वितरित सिस्टम की क्षमताओं के एक बड़े संग्रह को ट्रांस्पोर्ट सुरक्षा प्रणाली, मेसेजिंग पैटर्न, एनकोडिंग, नेटवर्क टोपोलॉजीज तथा हॉस्टिंग मॉडल को बनाये रखते हुए एक कम्पोजेबल तथा एक्सटेंसिव आर्किटेक्चर में एकीकृत करता है।

7- मिशन क्रिटीकल व्यापार प्रोसेसेज के योग्य बनाना (Enabling Mission Critical Business Processes) – के साथ बिजनेस प्रोसेसेज का मॉडल तैयार कर सकते हैं जो विकासकर्त्ता तथा बिजनेस प्रोसेस मालिक के साथ अच्छा डॉट नेट के साथ विकासकर्त्ता विण्डोज वर्कफ्लो फाउण्डेशन (Windows Workflow Foundation) का उपयोग कर कोड तालमेल बनाये रख सकते हैं तथा उपयोग कर्त्ताओं को डाटा का बेहतर एक्सेस प्रदान कर सकता है और इस प्रकार बेहतर परिणाम आता है।

8- डिवाइसों तथा प्लेटफॉर्मों तक बेहतर पहुंच (Superior Reach Across Devices and Platform) – कान विकसित कर सकते हैं। सिल्वर लाइन रनटाइम में डॉट नेट फ्रेमवर्क का एक सब-सेट उपलब्ध है जो विकासकर्ताओं डॉट नेट फ्रेमवर्क पर विकासकर्त्ता पर्सनल कम्प्यूटर से लेकर सर्वर, मोबाइल फोन तथा इम्बेडेड उपकरणों तक के लिए समाधान विकसित क़र सकते हैं सिल्वर लाइन रन टाइम में डॉट नेट फ्रेमवर्क का एक सब सेट उपलब्ध है जो विकासकर्ताओं को एक क्रॉस ब्राउज़र, क्रॉस प्लेटफॉर्म तथा क्रॉस डिवाइस प्लग इन प्रदान कर उनकी पहुँच को विस्तृत करता है।

फलस्वरूप वे डॉट नेट आधारित मीडिया अनुभव, विज्ञापन तथा रिच इंटरेक्टिव ऐप्लीकेशनस ( rich interactive applications) डिलीवर कर पाते हैं।

डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है | डॉट नेट फ्रेमवर्क कैसे काम करता है? | .Net Framework Kya Hota Hai in Hindi

डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है - .NET फ्रेमवर्क कितने प्रकार के होते हैं? | .Net Framework Features and Architecture in Hindi
डॉट नेट फ्रेमवर्क क्या है – .NET फ्रेमवर्क कितने प्रकार के होते हैं? | .Net Framework Features and Architecture in Hindi

डॉट नेट फ्रेमवर्क की कमिया (Limitations of Dot net Framework)

माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन भगवान से बडा रचियता तो हो नहीं सकता। माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन के भयंकर लॉबीइंग (Lobbying) के बावजूद इसकी सीमाएँ सामने प्रतीत होती है जिसको जानना सॉफ्टवेयर विकासकर्ता की क्षमता में आपके लिये आवश्यक है। इसकी सबसे प्रमुख कमी जो है वह ध्रुविये भालू के उदाहरण की तरह सटीक है। डॉट नेट फ्रेमवर्क प्रोग्राम का सम्बन्ध वही है जो बर्फ और ध्रुविये भालू का है। आइए हम देखते हैं कि में इसकी सीमाएँ क्या है।

  1. डॉट नेट फ्रेमवर्क अपने आप में एक सॉफ्टवेयर है। फलस्वरूप इसमें त्रुटियों की सम्भावनाएँ निहित हैं।
  2. डॉट नेट फ्रेमवर्क केवल नये विण्डोज संस्करणों में उपलब्ध है। अतः पुराने विण्डोज सिस्टमों पर डॉट नेट प्रोग्राम का चलाना सम्भव नहीं है।
  3. डॉट नेट प्रोग्रामों को लाइनक्स (Linux) तथा मैक ऑपरेटिंग सिस्टम पर नहीं चलाया जा सकता।
  4. सभी प्रोग्रामिंग भाषाएँ डॉट नेट फ्रेमवर्क के साथ काम नहीं कर सकते। उदाहरण के तौर पर आप जावा प्रोग्राम को डॉटनेट फ्रेमवर्क पर नहीं चला सकते।
  5. आम तौर पर यह कहा जाता है कि विजुअल बेसिक डॉट नेट विजुअल बेसिक का ही उन्नत संस्करण है। यह बात कुछ हद तक सही है पर दोनों के स्टाइल में काफी अंतर है इसलिए विजुअल बेसिक प्रोग्राम को डॉट नेट पर काम करने के लिए डॉट नेट सीखना जरूरी होगा। अतः यह कहा जा सकता है कि इसमें काम करने पर बैकवर्डस् कम्पैटिबिलिटी (backwards compatibility) को छोड़ना होगा।

फिर भी, उपरोक्त सभी सीमाओं के बावजूद आज कम प्रतिभावान प्रोग्रामर भी विजुअल बेसिक डॉट नेट की सहायता से
अच्छे सॉफ्टवेयर विकसित कर सकते हैं।

डॉट नेट फ्रेमवर्क आर्किटेक्चर (Dot Net Framework Architecture)

डॉट नेट फ्रेमवर्क दो मुख्य भाग पर निर्मित है। ये दो भाग कॉमन लैंग्वेज रनटाइम तथा डॉट नेट फ्रेमवर्क क्लास लाईब्रेरी है। कॉमन लैंग्वेज रनटाइम डॉट नेट फ्रेमवर्क का फाउण्डेशन व आधारशिला होता है। रनटाइम एक एजेण्ट की तरह होता है जो एक्जिक्यूशन के दौरान कोड को व्यवस्थित करने के लिए मेमोरी प्रबंधन, थ्रेड प्रबंधन तथा रिमोटिंग के साथ-साथ स्ट्रिक्ट टाइप सेफ्टी (Strict Type Safety) तथा कोड एक्युरेसी (code accuracy) के विभिन्न रूपों को लागू करता है जो सुरक्षा तथा शक्ति को प्रोत्साहित करता है।

वस्तुतः कोड मैनेजमेण्ट की परिकल्पना रनटाइम का मूलभूत सिद्धांत है। वह कोड़ जो रनटाइम को टारगेट करता है मैनेजड कोड (managed code) कहा जाता है जबकि कोड जो रनटाइम को टारगेट नहीं करता है अनमैनेजड कोड (unmanaged code) कहा जाता है।

क्लास लायब्रेरी डॉट नेट फ्रेमवर्क का दूसरा मुख्य भाग है। यह रियूजेबल टाइप्स (reusable types) का एक व्यापक ऑब्जेक्ट प्रदत संकलन है जिसकी सहायता से आप पारम्परिक कमाण्ड लाइन या ग्राफिकल यूजर इंटरफेस एप्लीकेशन से लेकर ए० एस० पी० डॉट नेट आधारित एप्लीकेशन जैसे वेब फॉर्मस तथा एक्स० एम० एल० वेब सेवाएँ विकसित कर सकते हैं।

डॉट नेट फ्रेमवर्क अव्यवस्थित कम्पोनेण्टस के द्वारा होस्ट किया जा सकता है जो कॉमन लैंगवेज रनटाइम को अपने प्रोसेस में लोड करता है तथा व्यवस्थित कोड के क्रियान्वयन को शुरू करता है जिसमें ऐसा सॉफ्टवेयर वातावरण बन जाता है जो व्यवस्थित तथा अव्यवस्थित दोनों ही फीचरों का उपयोग कर सकता हो।

डॉट नेट फ्रेमवर्क न ही केवल अनेक रनटाइम होस्ट प्रदान करता है बल्कि तृतीय पक्ष रनटाइम होस्ट के विकास को भी सपोर्ट करता है। उदाहरण के तौर पर ए० एस० पी० डॉट नेट व्यवस्थित कोड के लिए स्केलेबल सर्वर पक्ष वातावरण प्रदान करने के लिए। रनटाइम होस्ट करता है। ए० एस० पी० डॉट नेट रनटाइम के साथ सीधे-सीधे कार्य कर ए० एस० पी० डॉट नेट एप्लीकेशनों तथा एक्स० एम० एल० वेब सेवाओं को योग्य बनाता है।

इण्टरनेट एक्सप्लोरर अव्यवस्थित एप्लीकेशन का एक उदाहरण है जो रनटाइम को माइम (mime) टाइप विस्तारक के रूप में होस्ट करता है। रनटाइम को होस्ट करने के पश्चात् इण्टरनेट एक्सप्लोरर का उपयोग कर आप एच०टी०एम०एल० डाक्यूमेन्टस में व्यवस्थित कम्पोनेण्टस या विण्डोज फॉर्मस कंट्रोलस को इम्बेड करते है।

4.5/5 - (2 votes)
Suraj Kushwaha
Suraj Kushwahahttp://techshindi.com
हैलो दोस्तों, मेरा नाम सूरज कुशवाहा है मै यह ब्लॉग मुख्य रूप से हिंदी में पाठकों को विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर टेक्नोलॉजी पर आधारित दिलचस्प पाठ्य सामग्री प्रदान करने के लिए बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here