Wednesday, June 23, 2021

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग | Unique Uses Of Computer – Best Knowledge In Hindi

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग | Unique Uses Of Computer – Best Knowledge In Hindi

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग – आज हमारे जीवन का कोई भी ऐसा क्षेत्र शेष नहीं रह गया है, जिसमें कम्प्यूटर का प्रयोग प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष रूप से न हो रहा हो। आइए अब ऐसे ही कुछ कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं-

ज्योतिष विज्ञान में कम्प्यूटर- कम्प्यूटर ने अपना स्थान ज्योतिष के क्षेत्र में भी बना लिया है। ऐसे सॉफ्टवेयर भी तैयार हो गए हैं, जिनकी सहायता से जातक की जन्म तिथि, जन्म समय व जन्म स्थान की सही-सही जानकारी कम्प्यूटर में प्रविष्ट करने पर अनेक प्रकार से जन्मकुण्डलियों का निर्माण किया जा सकता है। Future Point, Kundali आदि इसी प्रकार के सम्पूर्ण ज्योतिष प्रोग्राम्स हैं। इन सॉफ्टवेयर्स की सहायता से वर्षफल, मासफल आदि प्राप्त करने के साथ-साथ विवाह के लिए कुण्डलियों का मिलान भी किया जा सकता है।

कम्प्यूटर रोबोट- रोबोट को सामान्यतः ‘यांत्रिक मानव’ समझा जाता है। वास्तव में रोबोट एक ऐसी मशीन है, जो मनुष्य के लिए बार-बार दोहराए जाने वाले, नीरस, श्रमसाध्य अथवा जोखिमभरे कार्य कर सकती है, परन्तु रोबोट तथा स्वचालित मशीनों में कुछ अन्तर होता है। अनेक ऐसे घातक कार्य, जैसे-बहुत गर्म चीजों को इधर से उधर उठाकर रखना अथवा रेडियोधर्मी पदार्थों को संभालना आदि रोबोट द्वारा आसानी से करवाए जा सकते हैं। अनेक सैंसर्स से युक्त तथा कम्प्यूटर द्वारा नियन्त्रित रोबोट विशेष परिस्थिति में अपने कार्य करने की प्रक्रिया में परिवर्तन भी कर सकते हैं। यह आवश्यक नहीं कि रोबोट आकार में मनुष्य के समान ही हों।

उद्योगों में प्रयोग किया जाने वाला प्रथम रोबोट अमेरिका की जनरल मोटर्स कम्पनी में सन् 1961 में स्थापित किया गया था। सबसे अधिक रोबोट्स मोटरवाहन बनाने कम्पनीज़ में प्रयोग होते हैं। कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग – रोबोट में कम्प्यूटर तकनीक का उपयोग होने से इनमें कृत्रिम बुद्धि का प्रयोग होने लगा है। इससे रोबोट्स की कार्य-क्षमता और उनके निर्णय लेने की क्षमता में अत्यधिक वृद्धि हुई है। अब इनका प्रयोग नाभिकीय प्रयोगों तथा अन्तरिक्ष अभियानों के लिए किया जाने लगा है।

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग | Unique Uses Of Computer – Best Knowledge In Hindi
कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग | Unique Uses Of Computer – Best Knowledge In Hindi

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग | Unique Uses Of Computer

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग – मंगल ग्रह पर भेजे गए अमेरिकी अन्तरिक्ष यान ‘वाइकिंग-2’ में मुख्य कार्यकारी व्यक्ति एक रोबोट ही था, क्योंकि इस यान में कोई मनुष्य था ही नहीं। यान के मंगल पर उतर जाने के बाद रोबोट ने अपनी बांह फैलाई, चट्टान हटाकर मंगल की मिट्टी का नमूना इकट्ठा किया और उसे कैप्सूल में भरकर उस पर विभिन्न रासायनिक एवं अन्य परीक्षण किए साथ ही इस परीक्षण के परिणामों को पृथ्वी पर बैठे वैज्ञानिकों तक प्रेषित भी कर दिया।

कम्प्यूटरीकृत कार (Computerized Cars)— इन्टरएक्टिव ड्राइविंग सिस्टम, आधुनिक कारों में अत्यन्त लोकप्रिय होता जा रहा है। यह ड्राइविंग सिस्टम कम्प्यूटर के द्वारा ही सम्भव हुआ है। कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग इसके अतिरिक्त अत्याधुनिक कारों में तो सभी नियन्त्रण कम्प्यूटर द्वारा संचालित होते हैं: जैसे-कार-मालिक की आवाज को पहचाने के बाद कार का दरवाजा स्वतः ही खुल जाता है, कार में पेट्रॉल की उचित मात्रा चेतावनी प्राप्त होती है, जिस रास्ते पर कार चल रही है उस सड़क व शहर का मानचित्र उपलब्ध कराना आदि।


बैंक में कम्प्यूटर (Computer In Bank) – बैंक ऐसा संस्थान है, जहां पर लेखे-जोखे का अत्यधिक कार्य होता है। यहां प्रत्येक ग्राहक के लिए जो व्यक्तिगत रिकॉर्ड बनाया जाता है, वह अत्यन्त महत्वपूर्ण होता है। प्रारम्भ में कार्यभार कम होने पर भी किसी भी बैंक कर्मचारी की सहायता से यह कार्य पूरा करना कठिन था। आजकल बैंकों में कार्य बहुत बढ़ गया है, और अब बैंकों में कम्प्यूटर के उपयोग द्वारा कार्य को सरलता से अल्प समय त्रुटिरहित पूरा कर लिया जाता है। इसीलिए पहले बैंक ग्राहकों के लिए अधिकतम् चार घण्टे के लिए खुलते थे, परन्तु अब ये छह घण्टे तक के लिए और कहीं-कहीं तो इससे भी अधिक समय के लिए खुलने लगे हैं।

कम्प्यूटर के अनोखे प्रयोग – प्रायः एक बड़े कम्प्यूटर को बैंक के मुख्य कार्यालय में स्थापित किया जाता है और अधीनस्थ ब्रान्चों को टर्मिनल द्वारा उससे जोड़ दिया जाता है। कम्प्यूटर द्वारा प्रत्येक ग्राहक के खाते का ब्यौरा हमेशा तैयार रखा जाता है, समय-समय पर इस खाते में होने वाले परिवर्तनों अर्थात् खाते में पैसा जमा करने अथवा निकालने पर तुरन्त ही उसे अपडेट कर लिया जाता है।

आधुनिक बैंकों के अब इन्टरनेट से सम्बद्ध होने के कारण यदि किसी ग्राहक ने मुम्बई में किसी खाते में पैसा जमा किया है, तो कुछ ही मिनट्स में उस खाते से पैसा दिल्ली में निकाला जा सकता है। अनेक बैंकों द्वारा प्रारम्भ की गई ए.टी.एम. सेवा भी बैंक में कम्प्यूटर के उपयोग का उदाहरण है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles